इन तरीकों को अपनाकर अपने डाटा को हैकर्स से बचा सकते है,जानिए

हर जगह गैजेट्स, ऐप्स और सोशल मीडिया का अत्यधिक उपयोग किया जा रहा है। इंटरनेट की दुनिया में, हर उपयोगकर्ता अपने व्यक्तिगत डेटा को तेजी से साझा कर रहा है। इस निजी जानकारी की मदद से हैकर्स आपको आर्थिक नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। इसलिए आपको सावधान रहना चाहिए।

1 सावधानी से ऐप चुनें: –

आजकल ज्यादातर मोबाइल ऐप फ्री हैं। इन एप्स के जरिए सबसे ज्यादा डाटा लीक हुआ। समस्या यह है कि ये ऐप प्रदर्शनों की मांग करते हैं। एक बार जब आप सभी को इकट्ठा करने की अनुमति देते हैं, तो स्टोर ऐप के पास लागू होते हैं।

2 सोशल मीडिया पर चुप्पी: –

कई लोग सोशल मीडिया पर इस तरह की जन्मतिथि, घर और कार्यालय का पता, फोन नंबर आदि साझा करते हैं। उन्हें पता नहीं है कि इंटरनेट पर डाली गई सामग्री स्थायी है। सोशल मीडिया खातों में देरी होने पर भी ऑनलाइन बैक से चोरी हो सकती है।

3 अपने वाई-फाई की सुरक्षा करें: –

अब अधिकांश डिवाइस वाई-फाई से जुड़े हैं और कनेक्शन की आवश्यकता है। खतरे कई प्रकार के हो सकते हैं। यह नेटवर्क हैकर्स को व्यक्तिगत डेटा एक्सेस या आतंकवादी गतिविधियों के लिए काम करने में मदद कर सकता है। जटिल पासवर्ड डालें।

4 डिवाइस सुरक्षा: –

उच्च गुणवत्ता वाले एंटीवायरस और एंटी-मैलवेयर सॉफ़्टवेयर स्थापित करें। मुफ्त सॉफ्टवेयर से बचें, क्योंकि वे वायरस और मैलवेयर फैलाने से डरते हैं। यदि ब्लूटूथ चालू है, तो जिस व्यक्ति को आप अपनी डिवाइस एक्सेस कर सकते हैं, इसलिए कृपया ध्यान रखें।

5 पासवर्ड सुरक्षा: –

कहीं भी अपनी अलग-अलग स्पेस प्रोसेस न लिखें। उन्हें याद करें। यदि आप पासबुक लिखते हैं तो कोड भाषा में लिखें। ईमेल पर भेजे गए किसी भी बैंक लिंक पर क्लिक न करें। सीधे बैंक की साइट पर जाएं। बैंक से कॉल करते समय सावधान रहें। व्यक्तिगत जानकारी साझा न करें।

6 ई-मेल अलर्ट: –

मेल रखने के लिए पहला कदम यह है कि इसे मजबूत पासवर्ड बनाया जाए। प्रमाणीकरण अगला चरण है। अधिकांश ईमेल सेवाओं को चरण-दर-चरण ऑटोकेशन सेटअप के लिए दिया गया है। स्पैम फोल्डर में उपलब्ध ईमेल को खोलने की कोशिश न करें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *