इस मंदिर में पति-पत्नी का साथ में पूजा करना है वर्जित

यूं तो भारत में अनगिनत मंदिर हैं और सबकी परंपराएं अलग-अलग हैं। वहीं, कईं ऐसे तीर्थ स्थान भी हैं जहां पुरुषों का प्रवेश निषेध है और कहीं पर स्त्रियों का। हिंदू धर्म में पति-पत्नी का एक साथ पूजा करना बहुत शुभ माना गया हैं लेकिन हमारे देश में एक ऐसा मंदिर भी है जहां दंपत्ति का एक साथ पूजा करने से कई अपराध लग जाते हैं। बता दें कि इस खास मंदिर में पति-पत्नी का साथ में पूजा करना वर्जित है।

आपके मन में खलबली तो ज़रूर मच गई होगी कि आखिर इस मंदिर का क्या नाम है… यह मंदिर कहां स्थ्ति है… और किनकी मंदिर है यह???

दरअसल, यह मंदिर शिमला के रामपुर स्थान में श्राई कोटि माता मंदिर के नाम से स्थित है। इस मंदिर की यह प्रथा है कि दंपत्ति के साथ यहां पूजा और दर्शन आप नहीं कर सकते हैं और अगर भूल से भी आप ऐसा करते हैं तो उनके रिश्ते में दरार आ जाती है।

पति-पत्नी का रिश्ता बहुत पवित्र और प्यार से भरा होता है लेकिन इस मंदिर में आप अगर अपनी पत्नी या फिर पति के साथ दर्शन करने आते हैं, तो आपका रिश्ता किसी कांच की तरह टूट कर बिखर जाएगा और आप इसका कारण समझ भी नहीं पाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि श्राई कोटि माता के नाम से यह मंदिर पूरे हिमाचल प्रदेश में प्रसिद्ध है।

श्राई कोटि माता मंदिर कैसे पहुंचे –

जैसा कि हमने आपको पहले बताया कि यह प्रसिद्ध श्राई कोटि माता का मंदिर हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में स्थित है, जहां आप बस के जरिए नारकंडा और फिर मश्नु गावं के रास्ते से होते हुए आसानी से पहुंच सकते हैं। बता दें कि समुद्र तल से इस मंदिर की ऊंचाई 11000 फ़ीट है और यहां जाने के लिए घने जगंलों से आपको गुजरना पड़ेगा।

दोस्तों आप इस खास श्राई कोटि माता मंदिर के दर्शन करने ज़रूर जाए लेकिन हां इस बात का विशेष ध्यान रखें कि अगर आप शादीशुदा हैं तो अपने पार्टनर के साथ इस मंदिर के दर्शन भूलकर भी ना करें।
माता रानी की जय…. !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.