कोरोना के बीच देश में एक ओर खतरनाक बीमारी की दस्तक, 8 साल के बच्चे प्रभावित

Another alarming disease in the country among Corona, 8-year-old children affected.

देश में कोरोना संकट के बीच चेन्नई के एक आठ साल के बच्चे में कावासाकी बीमारी के लक्षण मिले हैं. इस बीमारी का यह देश में पहला मामला है. हालांकि, बच्चा इम्युनोग्लोबुलिन और टोसीलीजुंबैब दवाएं देने के बाद बच्चा स्वस्थ हो गया. यह बच्चा कोरोना संक्रमित था जिसे गंभीर स्थिति में चेन्नई के कांची कामकोटि चाइल्डस ट्रस्ट हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों की टीम ने उसे तुरंत आईसीयू में भर्ती किया. जांच के दौरान बच्चे में हाइपर-इन्फ्लेमेटरी सिंड्रोम और कावासाकी बीमारी के लक्षण मिले थे.

डॉक्टर के अनुसार इस बच्चे की शुरुआती जांच में सेप्टिक शॉक के साथ निमोनिया, कोविड-19 पेनुमोनिटिस, कावासाकी रोग और विषाक्त शॉक सिंड्रोम के लक्षण मिले थे. शुरुआती डेटा के मुताबिक कावासाकी बीमारी के दौरान बच्चों को कुछ दिनों तक तेज़ बुखार रहता है साथ ही पेट में दर्द, डायरिया, आंखों का लाल होना और जुबान पर लाल दाने हो जाते हैं. इन बच्चों के शरीर पर लाल चकत्ते पड़ गए थे.

ब्रिटेन में इस बीमारी के कई मामले सामने आए हैं. अप्रैल महीने के आखिर में कावासाकी बीमारी के मामलों में अचानक से तेज़ी देखी गई है. द सन के मुताबिक 5 साल से लेकर 16 साल तक के बच्चे कावासाकी नाम की संक्रामक बीमारी के शिकार हुए हैं. ब्रिटेन में अब तक 100 बच्चे कावासाकी बीमारी के शिकार हो चुके हैं.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *