कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर up में गर्भवती महिलाओं को टिके लगाने को लेकर सरकार ने दिया ये अपडेट

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने आज कहा कि रिकवरी दर बढ़कर 94.7% हो गया है. पिछले 24 घंटे में कोविड से प्रदेश में 163 लोगों की मृत्यु हुई. मृत्यु की संख्या में लगातार कमी हो रही है. 24 घंटे में 2,98,808 टेस्ट किए गए. अब तक कुल मिलाकर 4,73,62,430 टेस्ट किए जा चुके हैं. उन्होंने कहा ”अब तक 1,31,80,187 लोगों को कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ लगाई जा चुकी है और 35,63,047 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज़ भी लगाई जा चुकी है. 1 जून से हम 18-45 साल के लोगों का वैक्सीनेशन 75 ज़िलों में शुरू कर देंगे.”

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा ”गर्भवती महिलाओं के लिए कोविड का टीका उपलब्ध नहीं है. सरकार ने गर्भवती महिलाओं के लिए कोविड वैक्सीन देने की अनुमति नहीं दी है. जिन महिलाओं के छोटे बच्चे हैं और वे स्तनपान कराती हैं, वे भी इस वैक्सीन को ले सकती है.”

आज उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्य नाथ ने कहा ”1 जून से 18-44 वर्ष के लोगों का वैक्सीनेशन सभी 75 ज़िलों में शुरू होने जा रहा है. इसमें सभी अभिभावकों को जिनके बच्चे 12 साल से छोटी उम्र के हैं यानी तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखकर उन अभिभावकों को पहले से वैक्सीन दे देना जिससे वे संक्रमित न होने पाएं.” आदित्यनाथ ने गुरसंडी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहे वैक्सीनेशन का निरीक्षण किया और उसके बाद मंडलीय सभागार में विंध्याचल मंडली जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ कोरोना स्थिति पर समीक्षा बैठक की.

भारत में COVID-19 के 1,96,427 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,69,48,874 हो गई है. 3,511 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 3,07,231 हो गई है. 3,26,850 नए डिस्चार्ज के बाद कुल डिस्चार्ज की संख्या 2,40,54,861 हुई. देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 25,86,782 है. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस की 24,30,236 वैक्सीन लगाई गईं, जिसके बाद कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 19,85,38,999 हुआ.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 20,58,112 सैंपल टेस्ट किए गए, कल तक कुल 33,25,94,176 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं. महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 22,122 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 42,320 लोग डिस्चार्ज हुए और 361 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *