क्या स्नान करते समय पानी की बाल्टी में सेंधा नमक या समुद्री नमक मिलाकर स्नान करने से मनुष्य पर हुआ काला जादू या नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है?

नमक में नकारात्मक ऊर्जा और सूक्ष्म कीटाणुओं को खत्म करने की ताकत होती है. इसलिए घर में पोछा लगाते समय समुद्री नमक का इस्तेमाल करें. समुद्री नमक न होने पर आप सामान्य नमक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. पोछा लगाते समय पानी में थोड़ा सा नमक डालने से फर्श के सभी कीटाणु खत्म हो जाएंगे. इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा निकल जाती है. वास्तु में नमक वाले पोछे की विशेष उपयोगिता बताई गई है.

अगर आप अपने नहाने के पानी में थोड़ा सा नमक डालकर नहाएं तो आप कई गंभीर बीमारियों को मात दे सकते हैं। जी हां, नमक के पानी से डेली नहाने से कई रोग दूर हो जाते हैं। जब आपको शरीर की थकान उतरनी होती है तो आप गर्म पानी से नहाने के बारे में सोचते हैं। लेकिन वहीं आप इस पानी में आप थोड़ा सा नमक डाल लें तो ये आपकी बॉडी की थकान उतारने के साथ-साथ आप में चुस्ती-फुर्ती भी भर देगा।

साल 1982 में में हुए एक अध्ययन में खुलासा हुआ कि नमक वाले पानी में नहाने से दर्द से राहत मिलती है और इलाज के बाद व्यक्ति जल्दी चल-फिर पाने में समर्थ हो जाता है। नमक वाले पानी में स्नान के बाद ऑस्टिआर्थराइटिस और टेंडॉन्टिस से राहत मिलती है। इसके साथ ही खुजली, अनिद्रा और स्किन संबंधी तमाम परेशानियों से भी दूर होती हैं।

क्या बाथ साल्ट हमारे लिए सही है…
नमक में कई तरह के घुलनशील खनिज होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी हैं। नमक हमें सल्फर-कैल्शियम, सोडियम, मैग्नीशियम, सिलिकन, बोरोन, पोटैशियम, ब्राोमाइन और स्ट्रोन्शियम जैसे जरूरी मिनरल्स प्रदान करता है। इतना ही नहीं नमक वजन कम करने, स्किन को खूबसूरत बनाने, अस्थमा को खत्म करने और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में भी मददगार है। नमक के पानी से नहाने के लिए आपका बीमार होना जरूरी नहीं है। यह क्लींजिंग और स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिहाज से भी काफी अच्छा है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *