गंभीर बीमारी से जूझ रहा है 4 माह का कवि, इलाज के लिए चाहिए 22 करोड़ का इंजेक्शन

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में 4 महीने का मासूम कवि एक
गंभीर और खतरनाक बीमारी से जूझ रहा है। उसका इलाज
अमेरिका से आने वाले 22 करोड़ के इंजेक्शन से ही हो पाएगा,


लेकिन यह वैक्सीन इतनी महंगी है कि उसके माता-पिता खरीद
पाने में सक्षम नहीं हैं। मासूम कवि के माता-पिता ने पीएम नरेंद्र
मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार
लगाई है।


कवि जन्म से ही एक गंभीर बीमारी स्पाइनल मस्कुलर एट्रॉपी से
जूझ रहा है। इस बीमारी का इलाज भारत में नहीं है। 22 करोड़
रुपए का यह इंजेक्शन यूएसए में मिलता है। डॉक्टरों का कहना
है कि अगर यह इंजेक्शन दो साल के अंदर मासूम कवि को नहीं
लगा तो उसकी मौत हो जाएगी।

इतनी बड़ी रकम का बंदोबस्त
कैसे होगा, इसी चिंता में दबे परिवार ने हिम्मत जुटाई और सोशल
मीडिया के माध्यम से क्राउड फंडिंग के जरिये पैसा जुटाने की
मुहिम शुरू कर दी। इसके बाद करीब 8 लाख रुपए इनके खाते में
भी आ चुके है।

बच्चे के माता-पिता जनता और सरकार से गुहार
लगा रहे हैं कि प्लीज हमारे बच्चे को बचा लीजिए। इस इन्जेक्शन
का नाम जोंलगेंसमा है जिसकी कीमत भारत में 22 करोड़ रुपए
की और यह अमेरिका से मंगवानी पड़ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.