जिस बेटी को मरा समझ घरवालो ने किया था दाह संस्कार, वो अपने दादा के पास मिली

जिस लड़की को मरी हुई सोचकर अंतिम संस्कार तक हो गया था । वही लडकी अपने ही घर पर बैठी मिली ये चौका कर रख देने वाला मामला है, मध्य प्रदेश के सतना जिले का। मध्य प्रदेश के सतना में एक लड़की को उसके परिजनों ने मरा समझकर उसका अंतिम संस्कार तक कर दिया था ।जब उस मृत लड़की का घर वालो को फोन आया तो घर वाले लडकी की आवाज सुन रह गए सन।

लड़की थी दादा के पास
लड़की बिलकुल ठीक-ठाक जिंदा अपने दादा के घर उनके साथ रह रही थी। जब वह लड़की बिलकुल ठीक है और जिंदा है तो अब सवाल ये उठा कि फिर वो कौन थी । जिस लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया गया ?

पुलिस को लड़की की लाश मिली
सतना के मझगवां पिण्ड्रा कैलासपुर की एक लड़की लापता हुई थी और तभी सतना पुलिस को एक लड़की की लाश भी मिली थी जिसकी पहचान लड़की के परिजनों ने की थी। यही नहीं लाश मिलने पर परिजनों ने चक्काजाम तक लगा रखा था। लेकिन बाद में पुलिस ने लापता लडकी को उसके दादा के गांव से बरामद कर लिया।

पुलिस की सख्ती पर लड़की ने बताया कि उसकी मां का निधन 2014 में हो गया था।माँ के निधन के बाद वह अपनी मौसी के घर रहने लगी। इस दौरान किशोरी की मुलाकात चंदई ग्राम निवासी अजय कुशवाहा से हुई।और वह दोनों एक दुसरे को चाहने लगे वह फोन पर बात भी करने लगे पर एक दिन उसकी मौसी ने उसे पकड़ लिया और उसे खूब डाटने लगी जिससे नाराज़ होकर लड़की मौसी का घर छोडकर चित्रकूट चली गई और वहां से कर्वी पहुंच गई। कर्वी पहुंचने के बाद उसने अपने प्रेमी अजय कुशवाहा को फोन करके बुलाया और वहा से दोनों इलाहबाद चले गए।

इलाहाबाद में दोनों रहने लगे उसके बाद लडकी ने मुंबई में रहने वाली अपनी बड़ी बहन से फोन पर संपर्क किया। फोन पर अपनी बहन की आवाज सुन लड़की की बड़ी बहन ने उसे बताया कि तुम तो मर चुकी हो और तुम्हारा तो अंतिम संस्कार हो गया है। ये बात सुनते ही वह लड़की डर गई और अपने दादा-दादी के घर भाग गई।

अब पुलिस के सामने बड़ी समस्या ये आई है की जिस लड़की को लापता लड़की समझ कर परिजनों ने अंतिम संस्कार तक कर दिया था आखिर वह लड़की कौन थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.