जो ऑक्सीजन हम लोग सांस के माध्यम से लेते हैं, उसमें और फैक्ट्री में बनी ऑक्सीजन में क्या अंतर होता है? जानिए

रासायनिक प्रक्रिया से ऑक्सीजन हम बना सकते हैं। मगर फॅक्टरी मे हमारे वातावरण से ही निकाल लेते हैं।

हवा को साफ करलेते हैं??? यांनी इसमेसे धूल को छानकर अलग करलेते हैं।

साफ की गयी हवा एक बहुत मजबूत और बडे सिलिंडर मे काफी दाब से भरा जाता हैं।

Adsorption – कुछ तरह के रासायनिक पदार्थ ऐसे होते है की विशेष दाब और तापमान मे हवा से सिर्फ ऑक्सीजन को सोंख लेते हैं।

सिलिंडर मे दाब से भरी हवा को ADSORPTION – सक्षम विशेष पदार्थ पर से चलाते हैं। ये ऑक्सिजन सोंख लेते हैं।

बाद मे दाब और तापमान को बदल देते हैं तो विशेष पदार्थ ने सोंख ऑक्सिजन मुक्त हो जात हैं।

ये प्रक्रिया मैने संक्षिप्त मे बताई हैं। वास्तविक / व्यावहारिक तौरपर इसके लिये काफी सारे compressor / हवा दबाने वाली मशीन / तापमान नियंत्रण करने वाली मशीन की / पंप / पाईप का जाल आदी की जरूरत होती हैं।

ये सबसे आम और सस्ती प्रक्रिया हैं। इसकी सारी मशीन हमारे देश मे बनती हैं। वेल्डिंग के लिये / अस्पताल / कारखाने मे इस ऑक्सिजन का ईस्तेमाल होता हैं।

इसके अलावा – रॉकेट उडाण / पनडुब्बी आदी के लिये काफी अलग प्रक्रियासे ऑक्सिजन पाया जाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.