ताने देने वाली बहु की पढ़े मजेदार कहानी

नीलम अपने बेटे अतुल की शादी करने निशा बहु को अपने घर में लाती है।नीलम सोचती है की बहु आने से उसकी समस्या अब कम हो जायेंगी।पर निशा बहु के कारण अब घर में समस्या बढ़ने लगती है।एक दिन निशा बहु देर से उठती है और अपने साँस से कहती है की उसकी माँ तो सुबह बोहत जल्दी उठती है और घर का सारा काम करती है जिसके कारण उसकी शेहत आज भी बनी हुई है।बिचारी साँस अपने बहु के आते ही उसके ताने सुनने लगती है।

घर की शांती के लिए साँस अपने बहु और बेटे को कुछ नहीं बोलती।एक दिन साँस खाना बनाती है तब बहु वहाँपर आती है और खाने में बड़े बड़े उपहार बताने लग जाती है।स्वादिष्ट खाना बनने के बाद बहु बड़े मजेसे खाना खाती है और खाना खाने के बाद सब्जी में कमिया निकालने लगती है।निशा बहु कहती है की उसकी माँ उससे भी अच्छी सब्जी बनाती है और साथ में सलाद भी खिलाती है।एक दिन साँस कपड़े धोते रहती है तब बहु वहाँपर आती है और कहती है की,उसकी माँ घर के सारे कपड़े खुद ही धोती है और वो भी अच्छेसे।

एक दिन नीलम की बेटी मनीषा उनके घर मेहमान बनकर आती है।अपने घर की बिघड़ी हुयी हालत देखकर मनीषा सोचमे पड़ जाती है और अपने ननद की सबक सिखाने की सोचती है।मनीषा जब से अपने मायके आती है तब वो अपनी माँ को काम नहीं बताती और खुद काम करने लगती है।अपनी साँस को आराम करते देख निशा बड़ा अलग महशुस करती है।मनीषा को काम करती देख निशा अब अच्छा नहीं लगता इस कारण निशा भी अब मनीषा का हात बटाना चालु करती है।

मनीषा जब सुबह उठती है तब निशा भी उसके साथ सुबह उठ जाती है।मनीषा जब खाना बनाती है तब निशा भी उसका हात बटाने लग जाती है।साँस अपने निशा बहु को बिना ताने मारकर काम करता देखकर अच्छा महसूस करती है।धीरे धीरे मनीषा अपनी ननद में हर दिन काम करने की आदत डाल देती है और एक दिन अपने ससुराल चली जाती है।निशा बहु अब मनीषा के जाने के बाद घर का अच्छेसे काम करने लग जाती है और साँस को ताने देना बंद कर देती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *