पहली बार हुई 15 बकरिया गिरफ्तार, मालिक पर 45 हज़ार की लगी दण्ड राशि,जानिए पूरा मामला

आप जब रोड पर जाते हैं तो डिवाइडर पर लगे हुए पेड़ों को तो अवश्य देखा होगा। यह पेड़ नगर पालिका के द्वारा केंद्र सरकार के वार्ड राज्य सरकार के आदेशानुसार लगाए जाते हैं। जिन की चोरी को लेकर भी सख्त नियम बनाए गए हैं। भारत में रात के अंधेरे में पेड़ की चोरी होना आम बात है, परंतु नगर पंचायत कार्यालय के कर्मचारियों ने 15 बकरियों को डिवाइडर पर लगे हुए सरकारी पेड़ों को खाते हुए देख लिया गया। जिसके पश्चात उचित नियमानुसार उन सभी बकरियों को हिरासत में ले लिया गया। यह घटना तमिलनाडु राज्य की है।

जिसमें शायद पहली बार किसी बकरी को गिरफ्तार किया गया हो। बकरी के मालिक पर 45000 का जुर्माना भी लगाया गया है बकरी को हिरासत में लेने की वजह से पुलिस भी ट्रोल होने की आशंका में है। पहले संज्ञान में आने पर यह घटना थोड़ी अफवाह से प्रतीत हुई परंतु नगरपालिका कार्यालय से पुष्टि होने पर यह पता चला कि वास्तव में 15 बकरियां नगरपालिका की कार्यवाही के अंतर्गत गिरफ्तार कर ली गई है।

जिन का कुसूर डिवाइडर पर लगे हुए पेड़ों को खाना मात्र ही था भारत में ऐसे बहुत सारे पेड़ रात के अंधेरे में चोरी कर लिए जाते हैं परंतु इस नियम के देखा देखी मैं ऐसा प्रतीत होता है कि डिवाइडर के पेड़ चोरी करने का नियम वास्तव में सख्त है। यदि कोई चोरी करते पकड़ा गया तो बाहर ही दंड राशि भी लगाई जा सकती है। फिलहाल बकरियों के मालिक पर अभी 45000 की धनराशि लगाई गई है। जिसकी अंतिम अवधि के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं प्राप्त हुई। तमिलनाडु में से होने वाली इतिहास में पहली बार ऐसी घटना सामने आई है जो कि वास्तव में चर्चा का विषय बन चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.