“पीआई ग्रह” क्यों चर्चा में है? जानिए वजह

इस ग्रह की खोज नासा के केपलर टेलिस्कोप ने किया है। इस ग्रह का वास्तविक नाम K2-315b है। यह ग्रह एक शांत , ठंडे और बौने सितारे की परिक्रमा 81 किमी प्रति सेकंड की रफ्तार से कर रहा है। सितारा ठंडा है तो इसका मतलब यह नहीं कि वहां गर्मी नहीं है, इस ग्रह के सितारे का तापमान 3000 डिग्री सेल्सियस है।

पीआई ग्रह अपने मातृ तारे की परिक्रमा मात्र 3.14 दिन में कर लेता है जो कि गणितीय स्थिरांक π के मान के बराबर है इसलिए इसे पाई ग्रह भी कहा जाता है।

इस ग्रह की खोज 2017 में की गई थी तभी से इसपर अध्ययन चल रहा है। यह ग्रह हमारी पृथ्वी के लगभग बराबर है, लेकिन यहां का तापमान 187 डिग्री सेल्सियस है। जो कि जीवन की संभावना को कम कर देती है लेकिन अभी कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि यहां भी जीवन हो सकता है लेकिन किस तरह के जीव होंगे यह पता करना मुश्किल है। यह ग्रह हमारी पृथ्वी से 185 प्रकाश वर्ष की दूरी पर है। एक वर्ष में प्रकाश 95 खरब किमी की दूरी तय कर लेता है। प्रकाश की गति से भी यहां तक पहुंचने में 185 साल लग जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.