पैसे बचाने के कुछ उपयोगी तरीके क्या हैं?

पैसे बचाने के लिए सबसे पहले तो आप यह बताइए कि आप अगर खुद कमाते हैं तो आपको अपनी मंथली इनकम पेपर में लिखनी चाहिए।

अगर आपको रेंट पे करना है या अपने खुद के घर पर रहते हो या माता-पिता के साथ रहते हो आपने पूरी बात बताई नहीं। चलिए उत्तर दे देती हूं अगर आप अपनी कमाई की बचत की प्लानिंग करना चाहते हैं तो सबसे पहले एक पेन और पेपर ले लीजिए।

अगर आप किराए के घर पर रहते हैं तो सबसे पहले आपको घर का रेंट देना होगा।

शादीशुदा है तो घर का सारा सारा सामान लाना होगा।

बच्चा है तो उसकी स्कूल की फीस उसकी पढ़ाई लिखाई का पूरा खर्चा।

दूध का बिल, पेट्रोल का खर्चा ।इस तरह के ना जाने कितने खर्चे हैं जिन सब की आपको पहले लिस्ट बनानी चाहिए।अब आप बचा कैसे सकते हैं ।उसके लिए आप को ध्यान देना चाहिए कि जिस तरह से आजकल ऑनलाइन बहुत सारे सामान घर के जरूरत के अच्छे डिस्काउंट में मिलते हैं या किसी सुपर मार्केट में अच्छा डिस्काउंट मिल रहा है तो घर का सामान ले कर के अगर आप एक बार में लाएंगे तो 3 से 4 महीने का जब सामान आप लाकर रख लेते हैं कम कीमत पर अगर मिल रहा है तो आपकी काफी कुछ बचत होती है।अगर आपको आस-पास ही कहीं जाना होता है.

तो बजाय स्कूटर उठाकर या कार से जाने के बजाए थोड़ा वॉक करके चले जाइए उस से क्या होगा आपकी हेल्थ भी अच्छी रहेगी और आपके पेट्रोल के पैसे भी बचेंगा। तीन-चार किलोमीटर इंसान पैदल जा सकता है। जो ज्यादा जरूरी हो वहां खर्च करिए। कुछ लोगों को बिना बात के शॉपिंग करते रहने की आदत होती है ।ऐसे खर्चे को लगाम लगाइए। क्योंकि जब से देखी कोविड-19 कहीं आना जाना तो है नहीं घर में ही रहना है तो इतने कपड़े तो आपके पास पर्याप्त होंगे कि आप घर में आराम से शॉर्ट टीशर्ट पहन करके काम चला सकते हैं। जब छोटी-छोटी प्लानिंग खर्चों की की जाती है तो काफी कुछ बचाया जा सकता और सेविंग की जा सकती।

घर का राशन और जरूरत के सामान एक बार में लाना।

इतना जरूरी हो उतना ही लाइए।

मान लीजिए आपके पास एक अच्छा मोबाइल है फिर भी अगर मार्केट में कोई नया मोबाइल आ जाता है और आप उसे खरीदना चाह रहे हैं। यह भी एक तरीके की पैसे की बर्बादी है । उसी मोबाइल से काम चलाएं जरूरी नहीं है कि जो भी नया मोबाइल मार्केट में आया आपके पास होना ही चाहिए।

आपको शादी में जाना है अगर आपके पास कुछ कपड़े नए पड़े हैं तो आप उन्हें ही पहन सकते हैं। फिर से शॉपिंग पर पैसे बर्बाद करना वह भी एक प्रकार की बचत ही है।

और बचत में सभी को सहयोग देना होगा तब बहुत अच्छे से बचत होती है लेकिन प्लानिंग किसी एक को करनी पड़ती है और वह घर घर का हेड ऑफ द फैमिली करें तो सारे लोग उसकी बात सुनते भी हैं और समझते भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.