भारत में ऐसे कौन से नियम-कानून हैं, जो प्रत्येक भारतीय को मालूम होने चाहिए? जानिए

अगर आप किसी कानून को ना भी जानते हो, तो भी आप ये कहकर कानून से नही बच सकते कि आपको उस कानून की जानकारी नही थी। क्योंकि अगर ये बात कोर्ट या पुलिस मान ले कि, क्योंकि आपको कानून नही पता था इसलिए आपने इसको अनजाने में तोड़ दिया है, और इस कारण आपको माफ करदे, तो मर्डर करने के बाद भी अभियुक्त ये ही बचाव लेगा की साहब मुझे नही पता था किसी को मारने पर सज़ा हो जाएगी या मुझे फांसी होगी।

तो अब क्या करे कैसे जाने सारे कानून।

उसके लिए आपको इतना आसान तरीका बता रहा हू की आप बिना कोई कानून को पढ़े सभी कानूनों को जान जायगे।

वो तरीका है सामान्य बुद्धि का प्रयोग। या जिसको हम कॉमन सेंस भी कहते है। चलिए आपको एक छोटे से उदाहरण के माध्यम से समझाता हू। आप बताइए भला किसी को बिना बात चांटा मरना सही है ? आप कहेंगे नही जी बिल्कुल गलत है। तो 323 दंड सहिंता में ये अपराध है। ,अब आप बताइये किसी की चीज़ बिना बताए उठाकर ले जाना सही है ? आप कहेंगे जी नही। तो ये भी 379 में चोरी का अपराध है।

कहने का मतलब ये है कि सभी कानून इंसानो द्वारा इंसानो के लिए ऐसे नियम बनाते है जो किसी गलत कार्य को करने से रोकते है या गलत करने पर दंड देते है या सही करने को कहते है।सामान्य बुद्धि से जो आपको गलत लगता है। या कॉमन सेंस से गलत है वो ही कानून है।

इसलिए आपको जो गलत लगता है मत कीजिये आप किसी कानून को नही तोड़ेंगे।

वही अगर आपके साथ कुछ गलत होता है तो उसपे भी कोई कानून जरूर होगा, हा बस ये हो सकता है कि आपको उस कानून का नाम ना पता हो , उस कानून का नाम जानने भर के लिए आप वकील की सहायता ले सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.