रजिया सुल्तान को क्यों मार दिया गया ? जानिए

रजिया सुल्तान जो की भारत की पहली महिला शासक थी रजिया सुल्तान का जन्म ईलतुतमिस के वहाँ 1236 वीं ईस्वी म हुआ था कई बेटों के बाद बेटी के जन्म पर बहुत बड़ा समारोह किया गया

इलतूतमिस ने अपनी बेटी को बेटों की तरह पल उसे शिक्षा दीक्षा भी बेटों की तरह दी बेटी भी काबिल थी 13 साल की उम्र मे तलवारवाजी औरयुद्ध कला मे निपुण हो गई थी वह अपने पिता के साथ युद्ध मे जाने लगी थी वह अपने भाईयू से काबिल थी इसीलिए इसलिए उसके पिता ने उसे दिल्ली की अगली सुल्तान बनाने का फेसला कर लिया था।

उसके बेटों ने इसका विरोध किया पर इलतूतमिस ने अपना इरादा नहीं बदला सब कुछ अच्छा था पर रजिया को एक गुलाम सेमुहब्बत हो गई यही वजह उसे जान गवानी पड़ी सभी उसके खिलाफ हो गए उसके प्रेमी को मार दिया गया उसके भाई ने उसका राज्य हड़प लिया दूसरे उसके बचपन के दोस्त अलतूनी या ने रजिया से इक शर्त रखी उसके छीने हुए राज्य को वापस दिलाकर शादी की यह बचपन का मित्र अलतूनिया उसे एक तरफा प्यार किया करता था.

रजिया ने इसका बहुत विरोध किया पर उसका राज्य उसके भाई बेहरान ने छीन लिया अपने राज्य को बचाने के लिए रजिया ने धैर्य से काम लेते हुए भटिंडा के गर्वनर अल्तुनिया से विवाह करने का निश्चय कर लिया और अपने पति के साथ दिल्ली की तरफ कूच करने लगी |

13 अक्टूबर 1240 को बेहराम ने रजिया सुल्तान को हरा दिया और अगले ही दिन रजिया सुल्तान और उसके पति अल्तुमिया को दिल्ली की तरफ भागते वक़्त कुछ लुटेरो ने हत्या कर दी | इस तरह भारत की महिला शाषक रजिया का दुखद अंत हो गया लेकिन इतिहास में उसका नाम अमर हो गया | जब रजिया दिल्ली की सुल्तान थी तो उसने बहुत सारे अच्छे कानून बनाए।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *