विश करते हुए हम ‘हैप्पी क्रिसमस’ की बजाए ‘मैरी क्रिसमस’ क्यों बोलते हैं?

क्रिसमस पर लोगों ने घरों में क्रिसमस ट्री सजाया है और एक-दूसरे के लिए उपहार रखे हुए हैं. किसी ने सैंटा क्लॉज की पोशाक पहन रखी है. तो कोई बच्चों को क्रिसमस सरप्राइज दे रहा है. इसी बीच लोग एक-दूसरे को असल जिंदगी, मैसेजेस और सोशल मीडिया पर ‘मैरी क्रिसमस’ विश कर रहे हैं. लेकिन इस बीच शायद ही आपका ध्यान इस बात पर गया हो कि क्रिसमस विश करते हुए हम ‘हैप्पी क्रिसमस’ नहीं कहते, ‘मैरी क्रिसमस’ ही कहते हैं. और अगर कोई गलती से ‘हैप्पी क्रिसमस’ कह दे तो उसे सुधारते भी हैं. तो क्या वाकई ‘हैप्पी क्रिसमस’ गलत होता है, और क्यों ज्यादातर लोग क्रिसमस विश करते हुए कहते हैं, ‘मैरी क्रिसमस’. जानिए ऐसा क्यों है?

इसे समझने के लिए समझना होगा मैरी और हैप्पी के बीच का अंतर

‘हैप्पी’ व्यवहार में बोला जाने वाला

शब्द है जबकि ‘मैरी’ भावनात्मक स्थिति में. मेंटल फ्लॉस वेबसाइट के मुताबिक, हैप्पी शब्द हैप से बना है. जिसका मतलब होता है किस्मत या सौभाग्य लाने वाला मौका.

जबकि मैरी में भावनात्मकता ज्यादा होती है और जिंदादिली के साथ प्रसन्नता और आनंद का भाव भी छिपा होता है. जहां हैप्पी का सीधा सा मतलब खुश होने से होता है, वहीं मैरी का मतलब ज्यादा भावनात्मक खुशी, जैसे प्रमुदित होने या आह्लाद से है. लेकिन इस ‘मैरी’ की खुशी में भी खुशी से नाचने जैसा भाव भी शामिल है.

हैप्पी से काफी पुराना शब्द है मैरी

यह बात भी सच है कि 18वीं और 19वीं शताब्दी में लोग हैप्पी क्रिसमस ही कहा करते थे. और इंग्लैण्ड में बहुत से लोग आज ही मैरी क्रिसमस की बजाए ‘हैप्पी क्रिसमस’ ही विश करते हैं. इंग्लैण्ड के राजा जॉर्ज v का एक किस्से में हैप्पी क्रिसमस विश करते हुए जिक्र मिलता है.

16वीं शताब्दी से ही ‘मैरी’ शब्द अंग्रेजी में प्रचलन में है. तब अंग्रेजी भाषा अपनी शुरुआती अवस्था में ही थी. हालांकि मैरी शब्द का प्रयोग क्रिसमस को छोड़कर बाकी त्योहारों पर बधाई देने के लिए नहीं किया जाता था.

इस शब्द के पीछे है मशहूर साहित्यकार चार्ल्स डिकेंस का हाथ

इस शब्द को प्रचलित करने में मशहूर इंग्लिश साहित्यकार चार्ल्स डिकेंस का योगदान भी बहुत है. उन्होंने ही करीब 175 साल पहले प्रकाशित अपनी किताब ‘अ क्रिसमस कैरोल’ के जरिए इसे प्रचलित किया.

इन सारी बातों को मद्देनज़र रखते हुए अगर विश करते हुए आपके मुंह से ‘हैप्पी क्रिसमस’ भी निकल जाए तो उसे सुधारने की जरूरत नहीं है क्योंकि सही वह भी है भले ही बिल्कुल उपयुक्त शब्द न हो. और हां आगे से कोई आपको इसके लिए टोके तो उसे भी यह बात पूरी की पूरी ऐसे ही बता दीजिएगा.हैप्पी से काफी पुराना शब्द है मैरी

यह बात भी सच है कि 18वीं और 19वीं शताब्दी में लोग हैप्पी क्रिसमस ही कहा करते थे. और इंग्लैण्ड में बहुत से लोग आज ही मैरी क्रिसमस की बजाए ‘हैप्पी क्रिसमस’ ही विश करते हैं. इंग्लैण्ड के राजा जॉर्ज v का एक किस्से में हैप्पी क्रिसमस विश करते हुए जिक्र मिलता है.

16वीं शताब्दी से ही ‘मैरी’ शब्द अंग्रेजी में प्रचलन में है. तब अंग्रेजी भाषा अपनी शुरुआती अवस्था में ही थी. हालांकि मैरी शब्द का प्रयोग क्रिसमस को छोड़कर बाकी त्योहारों पर बधाई देने के लिए नहीं किया जाता था.

इस शब्द के पीछे है मशहूर साहित्यकार चार्ल्स डिकेंस का हाथ

इस शब्द को प्रचलित करने में मशहूर इंग्लिश साहित्यकार चार्ल्स डिकेंस का योगदान भी बहुत है. उन्होंने ही करीब 175 साल पहले प्रकाशित अपनी किताब ‘अ क्रिसमस कैरोल’ के जरिए इसे प्रचलित किया.

इन सारी बातों को मद्देनज़र रखते हुए अगर विश करते हुए आपके मुंह से ‘हैप्पी क्रिसमस’ भी निकल जाए तो उसे सुधारने की जरूरत नहीं है क्योंकि सही वह भी है भले ही बिल्कुल उपयुक्त शब्द न हो. और हां आगे से कोई आपको इसके लिए टोके तो उसे भी यह बात पूरी की पूरी ऐसे ही बता दीजिएगा.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *