स्वास्थ विभाग की बड़ी लापरवाही, मोर्चरी में रखा मजदूर के शव को कांट गए चूहे, परिजनों ने लगाया आरोप

The city's largest Kovid-19 hospital will start in Noida from June 15,

उत्तर प्रदेश के ललितपुर से जिला स्वास्थ विभाग की लापरवाही का मामला सामने आया है। जहां विभाग की लापरवाही के कारण एक प्रवासी मजदूर का शव पूरी तरह से सड़ गल गया। मृतक के परिजनों का आरोप है कि शव में कीड़े पड़ने की वजह से क्षत-विक्षत हो गया।

मिली जानकारी अनुसार, कुछ दिन पहले ही बिहार के लिये जाने वाला प्रवासी मजदूर नसीमुद्दीन (58) महाराष्ट्र से चलकर ललितपुर जिला पहुंचे था, इस दौरान उसकी तबीयत बिगड़ गई, वहीं अस्पताल में भर्ती मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। मजदूर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने पर जिला स्वास्थ्य विभाग ने शव को कब्जे मे लेकर जिला अस्पताल के मोर्चरी में रखवा दिया।

शव से कोरोना वायरस जांच के लिए सैम्पल लेकर जांच के लिए भेज दिया। रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद परिजनों को शव ले जाने के कहा गया। परिजनों ने जैसे ही शव को देखा तो उनके होश उड़ गए। मृतक का शव पूरी तरह से सड़ गल गया था।

जबकि शव डीप फ्रीजर में रखा था, फिर भी शव में कीड़े पड़ गये थे और जगह जगह शव को कीड़े और चूहे आदि से कुतरने के निशान थे। जिस पर मृतक के परिजनों ने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही के गंभीर आरोप लागए हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *