दुनिया में एक जगह जहां कुत्ते को सिखाया जाता है कार चलाना

  1. अब जो मैं आपको बताने जा रहा हूं। शायद आपको मजाक लगेगा, लेकिन यह सच है। न्यूजीलैंड में एक एनिमल चैरिटी है। जो कुत्तों को कार चलाना सिखाते हैं। उनका मानना है, एक दिन कुत्ते इंसान से भी अच्छी ड्राइविंग करेंगे।
  2. ‘जापान’ इस देश का नाम आते ही हमारे दिमाग में सबसे पहली जो चीज आती है। वह है, यहां की एडवांस टेक्नॉलॉजी। जापान में चलने वाली बुलेट ट्रेन, जिसकी रफ्तार 350 से 400 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। यह रफ्तार इतनी तेज होती है, कि अंदर बैठे लोगों को जरा सा भी एहसास नहीं होती है, कि हम सफर कर रहे हैं। बिल्कुल हवाई जहाज की तरफ बुलेट ट्रेन में भी महसूस होता है। बुलेट ट्रेन इतना स्मूथली चलती है, कि अंदर का कोई चीज हिलता भी नहीं है। इसका अंदाजा आप इससे लगा सकते हैं। अगर आप चलती बुलेट ट्रेन में सिक्के को खड़ा कर छोड़ दीजिएगा, तो सिक्का पूरे सफर में हिलेगा भी नहीं।
  3. क्या आप जानते हैं, हमारे देश में नए नोट पर चित्रित उन्न जगह के बारे में अगर नहीं तो आइए जानते हैं। ₹10 के नोट पर जो चित्र दिखता है, वह कोणार्क सूर्य मंदिर का चित्र है। जिसे भारत की सबसे महत्वपूर्ण मंदिर में गिना जाता है। ₹20 का नोट पर जो चित्र है, वह एलोरा में स्थित कैलाश मंदिर का चित्र है। जिसे सिर्फ एक पत्थर को तराश कर पुरी मंदिर बनाई गई है। ₹50 के नोट पर कर्नाटक में मौजूद स्टोन चेरियट का पिक्चर छपा हुआ है। ₹100 की नोट पर गुजरात की रानी की भाव का चित्र छपा हुआ है। ₹200 के नोट पर मध्यप्रदेश में उपस्थित सांची स्तूप का चित्र छपा रहता है। ₹500 के नोट में दिल्ली के फेमस लाल किले का चित्र छपा रहता है। ₹2000 के नोट में मंगलयान का चित्र छपा रहता है। जो कि भारत द्वारा पहली बार में ही मंगल ग्रह पर भेजा गया सेटेलाइट है, जिसका नाम मंगलयान है।
  4. अमेरिका का एक फेमस स्टैचू, जिसका नाम ‘स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी’ है, उसे तो शायद आप सब जानते हो। लेकिन क्या आप जानते हैं, जब उसकी स्थापना हुई थी। यानी कि 1886 में ‘स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी’ का रंग चमकीला कॉपर रंग का था। जो कि आज बदलकर ग्रे रंग का हो गया है। इसके पीछे समय के साथ साथ बहुत सारे केमिकल भागीदार है। ऐसा माना जाता है, यह ऑक्सीडेशन नाम की केमिकल प्रक्रिया के कारण हुआ हैऐसा माना जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.