13 लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने पर BCCI चिंतित, पढ़े पूरी खबर

13वे एडिशन को यूएई में कराया जाना है। भारत में कोरोना महामारी की गंभीरता को देखते हुए इसे भारत के बाहर कराए जाने का फैसला लिया गया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की मुश्किलें शुक्रवार को तब बढ़ गई जब फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपर किंग्स के 12 सदस्य एक साथ कोरोनो संक्रमित पाए गए। शनिवार को टीम एक एक और खिलाड़ी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई।चेन्नई की टीम के दो खिलाड़ी समेत कुल 13 सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने से बाद बीसीसीआई ने इसपर आधिकारिक बयान जारी किया है। बोर्ड ने इस संबंध में एक बयान जारी करते हुए बताया कि यूएई आए सभी खिलाड़ियों के लिए कोरोना संक्रमण का टेस्ट करना अनिवार्य है।

20 से 28 अगस्त के बीच कुल 1988 कोरोना टेस्ट किए गए थे जिसमें खिलाड़ी के साथ टीम स्पोर्ट स्टाफ भी शामिल थे। 13 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है।बीसीसीआई की तरफ से कहा गया, यूएई में आने वाले सभी लोगों को नियम के मुतबिक टेस्ट और क्वारंटाइन से गुजरना अनिवार्य है। वो सभी ग्रुप जो यूएई पहुंचे हैं उनके कुल 1988 RT-PCR COVID टेस्ट कराए गए थे जिन्हें 20 से 28 अगस्त के बीच लिया गया था। इन ग्रुप में खिलाड़ी स्पोर्ट स्टाफ, टीम मैनेजमेंट, बीसीसीआई स्टाफ, आईपीएल ऑपरेशनल टीम, होटल और ग्राउंट स्टाफ मौजूद थे।इनमें से 13 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है जिनमें 2 खिलाड़ी भी शामिल हैं।

जो भी इससे प्रभावित लोग हैं साथ ही उनके संपर्क में आने वाले करीबी सभी को आइसोलेटेड कर दिया गया है। उनको आईपीएल की मेडिकल टीम द्वारा निगरानी में रखा जाएगा। जहां तक आईपीएल 2020 के स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रोटोकॉल का सवाल है तो पूरे सीजन के दौरान सभी के कोरोना टेस्ट कराए जाएंगे।BCCI ने इस संबंध में एक बयान जारी करते हुए बताया कि यूएई आए सभी खिलाड़ियों के लिए कोरोना संक्रमण का टेस्ट करना अनिवार्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.