भूल कर भी मत देखना यह मूवी, इसमें होते हैं इसमें किए गए हैं असली का मर्डर।

इस मूवी का नाम कैनीबल होलोकास्ट। यह मूवी सन 1980 में रिलीज हुई थी। इस मूवी के रिलीज होने के 1 दिन बाद ही डायरेक्टर को अरेस्ट कर लिया गया। लोगों का कहना था कि इस मूवी में असली में ही व्यक्तियों को मारा गया है। उनका कत्ल हुआ है। इसीलिए उसे पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किया गया था। जब उसे कोर्ट में पेश किया गया तथा उस पर आरोप लगाए गए कि तुमने इस फिल्म को बनाने के लिए रियल लोगों को मारा है। तब उसने अपने बचाव में सभी फिल्म बनाने वाले किरदारों को कोर्ट में पेश किया तथा लोगों को बताया कि इसमें हमने किसी को भी नहीं मारा। फिर भी लोगों का मानना है कि इस फिल्म में किसी ना किसी व्यक्ति को जरूर मारा गया है। यह फिल्म 1980 में रिलीज हुई जब किसी भी प्रकार का कोई ग्राफिक्स नहीं था। आप यह अंदाजा लगा सकते हैं कि उस समय पर इस व्यक्ति ने किस प्रकार की फिल्म बनाई होगी जो कि एकदम रियल लगती है। इस फिल्म को बनाने में $100000 खर्च हुए तथा इससे उनकी कमाई $2000000 से भी अधिक हुई। आप इसी बात से यह अंदाजा लगा सकते हैं कि बहुत सारे देशों में इस फिल्म को बैन करने के बावजूद भी इतना अधिक पैसा कमाया।

आप सोच सकते हैं कि उसने यह फिल्म कैसी बनाई।आपको यह पता हुआ कि आज की फिल्मों में ग्राफिक्स का यूज करके बनाया जाता है लेकिन 1980 के दौरान ग्राफिक्स ना होने के बावजूद भी उन्होंने एक ऐसा जुगाड़ या अरेंजमेंट कहे जिसे उन्होंने एक रियल देखने वाली मूवी बनाई। आपके नॉलेज के लिए हम बता दें कि इसमें किसी मनुष्य का कत्ल नहीं किया गया हो लेकिन जानवरों को रियल में ही मारा गया था। इस फिल्म में इतना अधिक खून खराबा है कि भारत में यह फिल्म बैन कर दी गई है। मैं आपसे यह गुजारिश करता हूं कि कृपया कर इस फिल्म को देखे ही नहीं। आप किसी भी प्रकार का जुगाड़ लगाकर इस फिल्म को देखने की कोशिश ना करें क्योंकि इस फिल्म को देखने के बाद आपको अपनी आंखों पर विश्वास ना होगा। यदि आप देखना ही चाहते हैं तो इस फिल्म को कहीं से भी एक या दो सीन देख लेना। आप विदेश में रहते हैं तो आप इसको देख सकते हैं अगर आपकी इच्छा हो तो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *