जानिए 5 भारतीय महिला क्रिकेटर जो करती है सबसे ज्यादा कमाई…

विश्व में लोकप्रिय खेलों में क्रिकेट का नाम भी शुमार है। महिला टी 20 विश्व कप हुआ है जिसमें ऑस्ट्रेलिया पांचवीं बार विश्व विजेता बना जबकि पहली बार फाइनल में पहुंची भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा। इस दौरान भारतीय महिला टीम की परफार्मैंस किसी से छिपी नहीं थी लेकिन आज हम आज ऐसी पांच भारतीय महिला क्रिकेटरों के बारे में बात करने जा रहे हैं जो कमाई के मामले में सबसे आगे हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में –

पूनम यादव

उत्तर प्रदेश की शानदार गेंदबाज पूनम यादव ने भारत को टी 20 विश्व कप के फाइनल तक पहुंचाने में खासा योगदान दिया था। उन्होंने इस दौरान 10 विकेट्स अपने नाम किए थे। यादव के पास ज्यादा ब्रांड्स के साथ तो जुड़ी नहीं है लेकिन 150 से ज्यादा विकेट्स झटकने के कारण वह बीसीसीआई की ग्रेड ए लिस्ट में शामिल है। इस मूल्य से उन्हें बीसीसीआई की ओर से 50 लाख रुपये सालाना मिलते हैं।

झूले गोस्वामी

बंगाल की 37 वर्षीय तेज गेंदबाज गोस्वामी बेहतरीन महिला क्रिकेटरों में शामिल हैं। उन्होंने 10 टेस्ट, 182 वनडे और 68 टी 20 इंटरनेशनल खेलने के मुकाबले 300 से ज्यादा विकेट्स अपने नाम किए हैं। इतना ही नहीं गोस्वामी सबसे सफल वनडे क्रिकेटर भी रहा है। बीसीसीआई की 2019-20ornrect लिस्ट में बी ग्रेड की खिलाड़ी हैं और उन्हें 30 लाख रूपए वार्षिक मिलते हैं।

हरमनप्रीत कौर

भारतीय महिला टी 20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत की लीडरशिप वाली प्रतिभा किसी से छिपी नहीं है और इतना ताजा उदाहरण महिला टी 20 विश्व कप फाइनल में पहुंचने पर देखने को मिला। पंजाब के इस खिलाड़ी ने 114 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 2000 से अधिक रन बनाए हैं। इसी के साथ ही उनके नाम टी 20 इंटरनेशनल क्रिकेट में शतक बनाने का रिकाॅर्ड भी दर्ज है। हरमनप्रीत बीसीसीआई की ग्रेड ए लिस्ट में शामिल है, जिससे उन्हें सालाना 50 लाख रुपये मिलते हैं। इसी के साथ ही वह सीएटी और नेचुरल-बी फ्रूट जूस की एड भी करती है।

सबसे लोकप्रिय महिला क्रिकेटरों में मंधाना आईसीसी विमेंस वर्ल्ड कप 2017 के बाद सुर्खियों में आई थी। वह आईसीसी महिला टी 20 विश्व कप के दौरान भारतीय टीम का हिस्सा भी थी। हालांकि इस दौरान उनका बल्ला खास कमाल नहीं दिखा। उन्होंने 2 टेस्ट, 51 वनडे और 75 टी 20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं और बीसीसीआई की ग्रेड ए लिस्ट में शामिल है। उन्हें भी बोर्ड से 50 लाख रुपये सालाना मिलते हैं। इसी के साथ ही मंधाना हूर मोटोकैप और रेड बुल की स्पैंसर भी है।

मिताली राज

महिला सचिनंदुलकर के नाम से जाने वाली मिताली रेज की है। इस 37 वर्षीय खिलाड़ी ने विश्व भर में अपने नाम का सिक्का जमाया है और कई लड़कियों के आइडल है। वनडे में 7000 से ज्यादा रन बनाने वाली मिताली वनडे में 53 बार नॉट आउट रही है। उन्होंने 10 टेस्ट भी खेले और इस दौरान उन्होंने 16 बार 663 रन बनाए। मिताली बीसीसीआई की ग्रेड बी के वर्ग में आती है और उन्हें बोर्ड से सालाना 30 लाख रुपए मिलते हैं। इसी के साथ ही वह सेन सोली, अमेरिकन टूरिस्टर, नेक्स्टजेन फिटनैस स्टूडियो और रॉयल चैलेंज ब्रांड्स के साथ भी जुड़ी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.