गर्भावस्था में व्यायाम करते समय बरतें ये सावधानियां

गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ और फिट रहना अपने लिए और अपने बच्चे के लिए बेहद ज़रूरी होता है। अगर आपको गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में सुबह उठकर मॉर्निंग सिकनेस (morning sickness) या अन्य असहजता महसूस होती है तो उस स्थिति से ध्यान हटाकर थोड़ा घूमने फिरने पर भी ध्यान ज़रूर दें। गर्भावस्था के दौरान फिट और स्वस्थ रहने के लिए ज़रूरी है कि आप रोज़ाना व्यायाम करें।

व्यायाम आपके वज़न को नियंत्रित रखता है, बढ़ते वज़न के लिए आपको सहन-शक्ति देता है और डिलीवरी के लिए आपको तैयार करता है। लेकिन अपने वर्कऑउट्स के दौरान बेहद सतर्क रहना भी ज़रूरी होता है।

हम आपको इस लेख में गर्भावस्था के दौरान व्यायाम से जुड़े कुछ फायदे, सावधानियां, नियम आदि बताने वाले हैं। जिनको ध्यान में रखकर आप खुदको और अपने बच्चे को स्वस्थ रख सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान फिट और व्यायाम करते रहने से आपको बेहद फायदा पहुँचता है जैसे –

इससे आप गर्भावस्था में होने वाली समस्या जैसे कमर दर्द, कब्ज़, चिंता आदि से दूर रहते हैं।
गर्भावस्था के दौरान होने वाले बदलाव में भी व्यायाम बहुत आराम पहुंचाता है।
स्वस्थ वज़न बनाये रखता है।
रात को अच्छी नींद देने में भी मदद करता है।
तनाव को दूर रखता है और आत्मविश्वास को सुधारता है।
आपके शरीर और दिमाग को डिलीवरी के लिए तैयार करता है।
अगर आपको गर्भावस्था के दौरान शुगर (gestational diabetes) हो जाती है तो व्यायाम आपके शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।
डिलीवरी होने के बाद व्यायाम आपके शरीर को वापस आकार में लाता है।

गर्भावस्था में व्यायाम करते से समय सावधानियां –
गर्भावस्था में व्यायाम करने के लिए सबसे पहले अपने डॉक्टर से बात ज़रूर करें। डॉक्टर से परामर्श और भी महत्वपूर्ण है अगर –

आपकी इस गर्भावस्था से पहले हुई डिलीवरी समय से पहले हो गयी हो या गर्भावस्था के दौरान रक्त स्राव हुआ हो या मिसकैरिज हुआ हो।
आपके खून में आयरन का स्तर कम हो (गंभीर एनीमिया)।
आपके बच्चे का विकास गर्भावस्था के दौरान सही से नहीं हो रहा हो।
आपको हाई ब्लड प्रेशर या प्री-एक्लेमप्सिया है और ये स्थिति दवाई से भी ठीक न हो।
गर्भावस्था से पहले आपका वज़न का अधिक था (बॉडी मॉस इंडेक्स (body mass index) 40 या उससे अधिक)।
गर्भवती होने से पहले आपका वज़न बहुत कम हो (बॉडी मॉस इंडेक्स (body mass index) 12 या उससे कम)
आप बहुत ज़्यादा धूमपान करते हों।
आपको जोड़ों और मांसपेशियों से जुडी समस्या हो।
आपको ह्रदय और फेफड़ों से जुडी परेशानी हो।
आप जुड़वा की अपेक्षा कर रहे हों।
आपका शुगर (डायबिटीज) नियंत्रित न हो।
गर्भावस्था के दौरान ​व्यायाम न करें अगर –

आपकी इस गर्भावस्था से पहले हुई डिलीवरी समय से पहले हो गयी हो या अभी के गर्भावस्था के दौरान आपको मिसकैरिज होने का जोखिम हो।
अगर गर्भावस्था के 26 हफ्ते होने के बाद भी आपकी प्लेसेंटा गर्भाशय में अधिक नीचे स्थित (placenta praevia) है।
आपके गर्भ में एक से अधिक बच्चे हो।
आपको बहुत गंभीर ह्रदय और फेफड़ों की बिमारी हो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *