Calling tracks for migrant laborers, life with the help of roads and roads, nobody pays attention

अधूरा रह गया सफरः एमपी में श्रमिक स्पेशल ट्रेन में दो मजदूरों की मौत

लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों का पलायन जारी है। श्रमिकों को उनके
घर तक पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई गई हैं।

ट्रेन से अपने घर जाने का सपना लिए लोग सफर कर रहे हैं लेकिन कुछ का सफर बीच
में ही अधूरा रह गया। मध्यप्रदेश में अलग- अलग घटनाओं में दिल का
दौरा पड़ने से श्रामिक स्पेशल ट्रेनों के दो यात्रियों की मौत हो गई है।


पुलिस ने बताया कि अखिलेश कुमार राणा अपने गृह जिला गोंडा
लौट रहे थे तभी अचानक वे बीमार पड़ गए और सोमवार को सतना
जिले के मझगावा रेलवे स्टेशन पर उनकी मौत हो गई।

वहीं बैतूल जिले के आमला रेलवे स्टेशन पर तमिलनाडु से बिहार के औरंगाबाद
जिले की यात्रा कर रहे व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया गया। इसके
अलावा 34 साल के एक और प्रवासी मजदूर की मौत हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.