1997 में हीरो बनने आया ये एक्टर आज बन गया है गरीबों का मसीहा

इस लॉकडाउन में अगर कोई एक्टर सबसे ज्यादा चर्चा में रहा है, तो वो है सोनू सूद। जिन्होंने क्या-क्या किया है, इसके बारे में बताने की बिल्कुल भी जरुरत नही है। क्योंकि उन्होंने लोगों के लिए क्या-क्या नही किया है, ये पूछों। जहां इस लॉकडाउन में सभी एक्टर घर पर बैठे हुए है, वहीं सोनू सूद खुद जाकर लोगों की मदद कर रहे है। इस लॉकडाउन में वो सब के हीरो बन गए है, असल में लोग उन्हें हीरो नही भगवान मान रहे है।

देखा जाए तो वो सोशल मीडिया पर हर उस व्यक्ति की डिटेल ले रहे थे, जो कहीं ना कहीं फंसा हुआ था और घर जाने के लिए ना ही उसके पास पैसे थे और ना ही कोई साधन। ऐसे समय में उन्होंने खुद के पैसों से हजारों लोगों को उनके घर पहुंचाया। ताकि वह इस लॉकडाउन में अपने गांव और अपने घरवालों के साथ रहें।

सोनू सूद ने ना सिर्फ इंडिया में फंसे लोगों को उनके घर पहुंचाया है, बल्कि इंडिया के कुछ लोग जो दूसरे देशों में फंसे थे उन्हें इंडिया भी ले आए है। जहां ये सब सरकार को करना चाहिए था, उसे सोनू सूद ने किया है। जबकि फंसे हुए लोग सरकार पर कम लेकिन सोनू सूद पर ज्यादा भरोसा कर रहे थे कि सोनू सूद उनकी मदद करेंगे।

सोनू सूद ने कुछ दिन पहले ही एक और बार फिर करोड़ों भारतीय लोगों का दिल जीत लिया था, जिसमें उन्होंने एक फैमिली के लिए खेत जोतने के लिए एक नये टैक्टर की व्यवस्था की थी, वो भी अपने पैसों से। इसके बाद तो हर कोई उन्हें मसीहा मानने लगे, ना सिर्फ सोशल मीडिया पर बल्कि टीवी पर भी वो छा गए।

बता दे कि ये एक्टर हीरो बनने के लिए 1997 में मुम्बई आया था, जो हीरो तो नही बन पाया लेकिन विलेन जरुर बन गया। इन्हें लगातार कई फिल्मों में निगेटिव रोल निभाने का मौका मिला और आज तक ये कुछ ऐसे ही रोल निभाते हुए चले आ रहे है, और आगे भी इन्हें इसी तरह के रोल में देखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.