This is how the nurse arrived on the corona duty, seeing her, the patient said to them

कोरोना डयूटी पर इस तरह पहुंची नर्स, देखकर मरीज बोले इनको तो मेरे

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में दुनिया भर के डाक्टर और नर्सें जी-जान से डटे हुए हैं। उनकी सेवाओं को लेकर लोग नतमस्तक हो रहे हैं लेकिन कई देशों में इन कोरोना फाइटर्स के साथ दुरव्यवहार के किसे भी सामने आ रहे है। इन दिनों एक नर्स की फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस नर्स को रूस की ‘टू हॉट नर्स’ कहकर भी बुलाया जा रहा है. हालांकि अब रूस की इस नर्स और इसके अन्य साथियों ने ऐसी तस्वीरें शेयर करने वालों और सोशल मीडिया पर हेल्थ वर्कर्स का मजाक उड़ाने वालों को मुंह तोड़ जवाब दिया है।

दरअसल रूस के एक हॉस्पिटल में तैनात यह नर्स PPE सूट के नीचे सिर्फ इनर वियर पहन कर कोरोना पीड़ितों के इलाज में जुटी है। नर्स की इनरवियर में फोटो वायरल होने के बाद इन दोनों नर्सों ने बताया था कि लगातार PPE सूट पहन कर काम करने के चलते उन्हें काफी गर्मी लग रही थी और वे ज़रुरत से ज्यादा मरीज होने के चलते ब्रेक भी नहीं ले सकती थीं। ऐसे में उन्होंने PPE के नीचे सिर्फ इनर वियर पहन कर काम करना ठीक समझा क्योंकि वे मरीजों को छोड़ना नहीं छह रहीं थीं। हालांकि पहले उनके इस जवाब के बावजूद भी सोशल मीडिया पर उन्हें काफी निशाना बनाया गया ।

लेकिन अब रूस में लोग, कई नेता और उद्योगपति इन नर्सों के पक्ष में खड़े हो गए हैं। रूस के ज्यादातर अस्पतालों ने संदेश भेजे हैं कि जो लोग जान पर खेलकर दूसरों की जान बचा रहे हैं उन्हें उनके कपड़ों से जज करने वाले लोग घटिया हैं। नादिया नाम की नर्स ने बताया कि उसने असहनीय गर्मी के चलते नर्स गाउन उतार कर अपने स्विम सूट में काम करने का निर्णय लिया था।

वे उस दिन लगातार तीन शिफ्ट में काम कर रहीं थीं और उन्हें लगा कि मरीजों की देखभाल करते रहना ज्यादा ज़रूरी है। हालांकि बताया जा रहा है कि जिस अस्पताल में नादिया काम करती हैं वहां से उन्हें फिलहाल सस्पेंड कर दिया गया है । इसी अस्पताल के डॉक्टर्स- नर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ ने नादिया के पक्ष में मोर्चा खोल दिया है। उनका कहना है कि स्थिति को समझने की जगह चंद ट्रोल की ओपिनियन के आधार पर अस्पताल ने जो फैसला लिया है वो सरासर गलत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.