आज रात से देश में लागू होगा ये नया नियम,जिसे सुनकर लोगों में मची ख़ुशी की लहर

सार्वजनिक क्षेत्र के देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) ने मार्जिनल कॉस्‍ट ऑफ फंड लेंडिंग रेट यानी MCLR में 0.25 फीसदी की कमी की घोषणा की है।

यह कटौती सभी तरह की अवधि के लोन लिए की गई है। नई दर लागू होने के बाद SBI का एमसीएलआर घटकर 7.00 फीसदी रह गया है। इससे पहले यह दर एक साल के लिए 7.25 फीसदी थी।

Equitas Small Finance Bank ने 1 लाख रुपए से 5 करोड़ रुपए तक डिपॉजिट्स पर ब्याज दर 5.5 फीसदी से बढ़ाकर 7 फीसदी सालाना कर दिया है। नई दरें 10 जून यानी आज लागू हो गई है।

साथ ही SBI ने अपने RLLR में भी कमी का ऐलान किया है। यह दर अब 8.15 फीसदी से कम होकर 7.40 फीसदी रह गई है। ये सभी नई दरें आज से लागू हो गई। इससे होम लोन समेत सभी तरह के कर्ज पर EMI में कमी आएगी।डिपॉजिट को आकर्षित करने के लिए इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक ने बचत खाते पर ब्याज दर में बढ़ोतरी की है।

बैंक के पास बचत खाते में दो स्लैब हैं – 1 लाख रुपए और उससे अधिक। बैंक ने बचत खाते में 1 लाख रुपए से 3.5 लाख रुपए तक की जमा राशि पर दरें छोड़ दी हैं। इसके करीब 6 लाख बचत खाते हैं।

कोरोना संकट और इसकी वजह से जारी लॉकडाउन के बीच आज से देशभर में कई नियमों में बदल गए हैं। इससे आपकी जेब पर असर पड़ने वाला है। इन नियमों में बदलाव की वजह से जहां एक तरफ आम जनता को राहत मिलेगी। तो वहीं कुछ नियमों से लोगों को नुकसान भी होगा।

दरअसल कोरोना काल के दौरान कई बैंकों ने अपने बचत ब्याज दर में कटौती की है तो स्टेट बैंक ऑफ इंडिया जैसे बड़े बैंक ने कर्ज की ब्याज दर में कटौती कर अपने लाखों ग्राहकों को राहत दी है और उनपर EMI के बोझ को कुछ कम किया है।

तो वहीं दिल्ली में शराब की कीमतों पर भी बड़ा ऐलान हुआ है। जिससे लोगों को फायदा होगा। आइए जानते हैं कि कैसे ये नियम आपकी कमाई और आपकी जेब पर असर डालेंगे।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *